श्री माता वैष्णो देवी मंदिर ने क्वारन्टीन में रह रहे मुसलमानों को सहरी-इफ्तारी देकर पेश की अनूठी मिसाल

Vaishno Devi Temple shrine board prepares sehri-iftari for 500 qurantined muslims during ramjan
Vaishno Devi Temple

कोरोना संकट के बीच श्री माता वैष्णो देवी मंदिर श्राइन बोर्ड (Vaishno Devi Shrine Board) ने सांप्रदायिक सौहार्द और एकता की एक अनूठी मिसाल पेश की है। रमजान के दौरान कोरोना संकट के दौरान कटरा के क्वारन्टीन सेन्टर में रह रहे मुलमानों के लिए वैष्णो देवी मंदिर बोर्ड ने सहरी और इफ्तारी का विशेष प्रबंधन किया है। आपको बता दें कि इससे पहले श्राइन बोर्ड ने कोरोना से जंग लड़ने के लिए 1.5 करोड़ की धनराशि दान की थी।

वैज्ञानिकों ने सुझाया ‘50 दिन बंद, 30 दिन छूट’ का फॉर्मूला

दरअसल, कोरोना संकट के चलते श्राइन बोर्ड के आशीर्वाद भवन को क्वारन्टीन सेंटर में बदला गया है। जहां करीब 500 मुसलमानों को क्वारन्टीन में रखा गया है। इस दौरान श्राइन बोर्ड ने इनके रहने से लेकर भोजन-पानी की पूरी व्यवस्था की है।

श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के सीईओ रमेश कुमार ने बताया, “हमें मालूम चला कि क्वारैंटाइन सेंटर में रहने वाले मुस्लिम रमजान के महीने में रोजा रख रहे हैं। उन्हें सुबह और शाम (सहरी और इफ्तारी) भोजन की जरूरत होती है। इसलिए, हमने अपने शेड्यूल में उनकी जरूरतों को देखते हुए तुरंत बदल दिया और उनकी सहरी और इफ्तारी का प्रबंध किया। अब ईद पर भी उन्हें स्पेशल खाना खिलाने की कोशिश कर रहे हैं।”

63 साल पहले जिस घर को छोड़ा, लॉकडाउन के कारण घर लौटा शख्स; पोता है गाँव का प्रधान लेकिन….

Vaishno Devi Shrine Board:



WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)