कोरोना पर चल रही मीटिंग के बीच में मिली पिता के निधन की खबर, फिर भी आधे घंटे तक जारी रखी मीटिंग

Yogi Adityanath continues meeting on corona even after father death news

उत्तरप्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट का आज दिल्ली के एम्स अस्पताल में इलाज के दौरान देहांत हो गया। 89 वर्ष के आनंद सिंह बिष्ट का स्वास्थ्य पिछले कुछ दिनों से ठीक नहीं था, उन्हें दिल्ली के एम्स अस्पताल में वेंटिलेटर पर रखा गया था। सोमवार को सुबह 10 बजाकर 40 मिनट पर उनका देहांत हो गया। अब शव को उनके उत्तराखंड स्थित पैतृक गांव पंचूर लाया जा रहा है।

जिस वक्त CM योगी आदित्यनाथ के पिता का देहांत हुआ, उस समय वे लखनऊ में कोरोना संकट के लिए बनी अपनी कोर टीम के साथ मीटिंग कर रहे थे। वे अधिकारियों से कोरोना संक्रमण के रोकथाम को लेकर किए जा रहे इंतजामों के बारे में चर्चा कर रहे थे। तभी मीटिंग के बीच में ही उन्हें पिता के निधन होने की खबर मिली। ऐसे में योगी आदित्यनाथ ने अपने आप को संभाल और मीटिंग जारी रखी। पिता के निधन की सूचना मिलने के बाद भी आधे घंटे तक उन्होंने मीटिंग जारी रखी और पूर्व निर्धारित समय पर ही मीटिंग को पूरा किया।

योगी आदित्यनाथ के पिता के निधन की आधिकारिक जानकारी उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्‍थी ने मीडिया को दी।

योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले के यमकेश्वर ब्लॉक के पंचूर गांव के रहने वाले थे। वे 1991 में वन विभाग में रेंजर के पद से रिटायर हुए थे। उसके बाद से ही वे गांव में रह रहे थे। बीते महीने जब उनकी तबियत ज्यादा बिगड़ने लगी तो उन्हें दिल्ली के AIIMS अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां गैस्ट्रोलाजी विभाग के एक डॉक्टर के नेतृत्व में उनका इलाज किया जा रहा था। लेकिन आज सुबह 10 बजकर 40 मिनट पर उनका निधन हो गया।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)