योगी आदित्यनाथ अपने पिता के अंतिम संस्कार में नहीं होंगे शामिल, कोरोना संकट में देशहित और कर्तव्य को रखा सबसे पहले

Yogi Adityanath will not attend his father funeral, wrote in a letter

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट का आज (सोमवार, 20 अप्रैल) को निधन हो गया। बीते महीने तबियत बिगड़ने पर उन्हें दिल्ली के AIIMS अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सोमवार को जिस वक्त उनके पिता का निधन हुआ, उस वक्त वे कोरोना पर चल रही एक मीटिंग में थे। वे अंतिम समय में अपने पिता के दर्शन भी नहीं कर पाए। पिता के निधन पर योगी आदित्यनाथ ने एक खत लिखा, जिसमे उन्होंने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ जारी इस जंग के चलते वे अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने व्यक्तिगत जीवन से ऊपर अपना कर्तव्य रखना उचित समझा और लॉकडाउन का पालन करते हुए अन्तिम संस्कार में शामिल नहीं होने का फैसला लिया। योगी आदित्यनाथ के पिता आंनद सिंह बिष्ट का उत्तराखंड स्थित पैतृक गांव पंचूर में मंगलवार को अंतिम संस्कार किया जाएगा। साथ ही उन्होंने परिवार वालों से अपील की, लॉकडाउन का पालन करते हुए कम से कम लोग अंतिम संस्कार में रहें।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने खत में लिखा,

अपने पूज्य पिताजी के कैलाशवासी होने पर मुझे भारी दुख एवं शोक है। वह मेरे पूर्वाश्रम के जन्मदाता हैं। जीवन में ईमानदारी, कठोर परिश्रम और निस्वार्थ भाव से लोक मंगल के लिए समर्पित भाव के साथ कार्य करने का संस्कार बचपन में उन्होंने मुझे दिया।

अंतिम क्षणों में उनके दर्शन की हार्दिक इच्छा थी, परंतु वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ देश की लड़ाई को उत्तर प्रदेश की 23 करोड़ की जनता के हित में आगे बढ़ाने का कर्तव्यबोध के कारण मैं न कर सका। कल 21 अप्रैल को अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में लॉकडाउन की सफलता तथा महामारी कोरोना को परास्त करने की रणनीति के कारण भाग नहीं ले पा रहा हूं।

पूजनीय मां, पूर्वाश्रम से जुड़े सभी सदस्यों से भी अपील है कि वे लॉकडाउन का पालन करते हुए कम से कम लोग अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में रहें। पूज्य पिताजी की स्मृतियों को कोटि-कोटि नमन करते हुए उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा हूं। लॉकडाउन के बाद दर्शनार्थ आऊंगा।”


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)