Home Uttarakhand पिता से किया वादा नहीं निभा सका देवभूमि का ये वीर सपूत,...

पिता से किया वादा नहीं निभा सका देवभूमि का ये वीर सपूत, कहा था “जल्द घर लौटूंगा”

जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के हंदवाड़ा में आतंकी मुठभेड़ में भारतीय सेना के दो अफसर समेत चार जवान और एक जम्मू-कश्मीर पुलिस का जवान शहीद हो गए। इन शहीद जवानों में उत्तराखंड के वीर सपूत ‘लांस नायक दिनेश सिंह'(Lance Naik Dinesh Singh) भी शामिल थे। कश्मीर घाटी के हंदवाड़ा में चली इस मुठभेड़ में भारतीय सेना के जांबाजों ने जवाबी कार्रवाई में दो आतंकियों को ढेर कर दिया।

Lance Naik Dinesh Singh martyred in Handwara Encounter
Martyr Lance Naik Dinesh Singh

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, 25 वर्षीय ‘लांस नायक दिनेश सिंह’ उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के रहने वाले थे। 2015 में सेना में भर्ती हुए दिनेश आखिरी बार दिसंबर में घर लौटे थे। इस मई-जून के महीने में वे अपने परिवार से मिलने घर आने वाले थे। दो दिन पहले ही दिनेश ने अपने पिता से फोन पर बातचीत के दौरान जल्द ही घर लौटने का वादा किया था। लेकिन लांस नायक दिनेश सिंहका ये वादा अधूरा रह गया, वे शनिवार को आतंकियों के साथ मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त हो गए। (Lance Naik Dinesh Singh)

ANI न्यूज़ एजेंसी के अनुसार, भारतीय सेना के अधिकारियों ने बताया कि जम्मू-कश्मीर के हंदवारा में एक मुठभेड़ में भारतीय सेना के चार जवानों की जान चली गई, इसमें कमांडिंग ऑफिसर, 21 राष्ट्रीय राइफल्स यूनिट के मेजर समेत 2 जवान और जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक जवान शामिल है। मुठभेड़ में 2 आतंकवादी भी मारे गए हैं।

आतंकियों के साथ चली इस मुठभेड़ में 21 राष्ट्रीय राइफल के कमांडिंग अफसर कर्नल आशुतोष शर्मा भी शहीद हो गए।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि ये देश कभी इन वीर सपूतों का बलिदान नहीं भूलेगा।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)

Latest Updates