Home Uttarakhand लॉकडाउन का पालन कराने के लिए 'पैरामिलिट्री फोर्स' तैनात, अब इन इलाकों...

लॉकडाउन का पालन कराने के लिए ‘पैरामिलिट्री फोर्स’ तैनात, अब इन इलाकों में निकले तो खैर नहीं…

भारत में कोरोना मरीजों की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। पूरे देश में 3 मई तक लॉक डाउन किया गया है। इस देशव्यापी लॉक डाउन को सफल बनाने के लिए पुलिसकर्मी रात दिन मुस्तैदी से ड्यूटी कर रहे हैं। लेकिन इस महामारी के दौर में भी, कुछ लोग ऐसे हैं जो लॉक डाउन का उल्लंघन करने से बाज नहीं आ रहे हैं। आज की ये खबर कुछ ऐसे ही लोगों के लिए है।

लॉकडाउन 2.0 का सख्ती से पालन करने के लिए उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में बुधवार से पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों ने मोर्चा संभाल लिया है। मोर्चा संभालने के बाद पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों ने शहर के लगभग सभी एंट्री पॉइंट और चौक चौराहों पर सख्ती से चेकिंग की, वही पहले दिन जवानों को किसी पर बल प्रयोग करने की जरूरत नहीं पड़ी। लेकिन शहर में जवानों की तैनाती से यह तो साफ हो चुका है की लॉक डाउन की धज्जियां उड़ाने वालों से सख्ती से निपटने के संकेत दिख गए हैं।

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में लॉकडाउन के पहले चरण में तमाम लोगों ने लॉक डाउन के नियमों का उल्लंघन कर खूब मखौल उड़ाया। वहीं डॉग डाउन का पालन कराने के लिए पुलिस ने भी खूब सख्ती दिखाते हुए उल्लंघन करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार भी किया। लेकिन लॉक डॉन 2.0 में भी कुछ लोग इस महामारी की गंभीरता को समझने को तैयार नहीं दिखे और बेवजह इधर उधर सड़कों पर घूमने निकलते ही रहे। ऐसी स्थिति उत्तराखंड में कोरोना के संक्रमण को बड़ा सकती है।

संवेदनशील क्षेत्रों में संभालेंगे मोर्चा

लोक डॉन 2.0 का सख्ती से पालन कराने के लिए पैरामिलिट्री फोर्स के करीब 100 जवान देहरादून पहुंचे हैं।खास तौर से जवानों की ड्यूटी शहर के अति संवेदनशील और संवेदनशील क्षेत्रों में लगाई जा सकती है। जानकारी के मुताबिक, जिन क्षेत्रों को सील और लॉक किया गया है, वहां पर अब भी कई लोग बेवजह बाहर निकल रहे हैं। इन क्षेत्रों की स्थिति को देखते हुए डीआइजी अरुण मोहन जोशी ने लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए बुधवार को उत्तराखंड की राजधानी देहरादून पहुंचे पैरामिलिट्री के जवानों को पुलिस के साथ निरंजपुर मंडी, तहसील चौक, सहारनपुर चौक, घंटाघर, समेत शहर के सभी प्रमुख चौराहों पर पुलिस के साथ तैनात किया। शहर में पैरा मिलिट्री के जवानों को तैनात करने का असर साफ़ दिखा।जवानों ने बैरियर पर लोगों को रोककर उनसे पूछताछ कर, बाहर निकलने का कारण पूछा, जिसके पास वाजिब जवाब था, जवानों ने उन्हें तो आगे जाने दिया लेकिन जो लोग बेवजह गाड़ियों से बाहर घूम रहे थे, उन्हें सख्त चेतावनी देते हुए वापस भेज दिया।

प्रदेश सरकार ने दुपहिया वाहनों पर सिर्फ एक सवारी और चौपहिया वाहन पर दो सवारी की परमिशन दी हुई है।लेकिन पैरामिलिट्री के जवानों ने दो पहिया वाहनों को रोक कर पिछली सवारी को उतरवा दिया, जबकि कार में दो से अधिक सवारी मिलने पर दो को छोड़ बाकियों को मौके पर ही उतार दिया। साथ ही चालक को ये चेतावनी देते हुए छोड़ा की चालक के बगल की सीट पर कोई नहीं बैठेगा ब्लकि कार में दूसरी सवारी पिछली सीट पर बैठेगी। वहीं पैरामिलिट्री की तैनाती से शहरवासियों में बुधवार दोपहर से ही लॉकडाउन 2.0 का डर दिखने लगा। वहीं, दोपहर के बाद सड़क पर चलने वाले वाहनों और लोगों में एकदम से कमी देखी गई।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)

Latest Updates

वर्ल्ड कप की मेजबानी करने वाला स्टेडियम, खेत की तरह दिख रहा है, 2 फीट लंबी घास से भरा मैदान

खेत जैसा नजर आता है वो मैदान जिस पर कभी वर्ल्ड कप का मैच हुआ था। पटना के मोइनुल हक स्टेडियम(Moin-ul-Haq Stadium),...

Mirzapur Season 2: जानिए आखिर ट्विटर पर क्यों ट्रेंड हो रहा है बॉयकॉट मिर्ज़ापुर 2, गुड्डू भैया से जुड़ा है मामला.. पढ़ें

लंबे इंतजार के बाद अमेज़न प्राइम वीडियो ने सोमवार को मिर्जापुर के दूसरे सीज़न की रिलीज़ डेट की घोषणा की। लेकिन मंगलवार...

भूमि पूजन: अयोध्या को सील करने की तैयारी, 4 अगस्त को नहीं मिलेगा किसी को भी प्रवेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या में श्री राम मंदिर की भूमि पूजन के लिए पहुंचेंगे इस को ध्यान में रखते...

1983 वर्ल्ड कप चैंपियन भारतीय क्रिकेट टीम को कितने पैसे मिलते थे जानिए

दिग्गज पाकिस्तानी क्रिकेटर रमीज राजा ने 1983 वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम की पे-स्लिप शेयर की है। कपिल देव की कप्तानी...

हाईस्कूल में फेल हुई छात्रा ने पिया जहर, वहीं पिथौरागढ़ में छात्रा ने की फांसी लगाकर आत्महत्या

उत्तराखंड के नैनीताल में हाईस्कूल में फेल होने के बाद गवर्नमेंट इंटर कॉलेज बाजुनियाहल्लु की एक छात्रा ने आत्मघाती कदम उठाया। दरअसल,...