Home Uttarakhand नेहरू पर्वतारोहण संस्थान का नाम 'Limca Book Of India Records' में हुआ...

नेहरू पर्वतारोहण संस्थान का नाम ‘Limca Book Of India Records’ में हुआ दर्ज, ये बड़ी उपलब्धि की हासिल

भारत को कई सफल पर्वतारोही देने वाला विश्व प्रसिद्ध नेहरू पर्वतारोहण संस्थान (NIM) ने गंगोत्री क्षेत्र की चार अनाम व पहले कभी न चढ़ी गई चोटियों को एक साथ फतह करके अपना नाम लिम्का बुक ऑफ इंडिया रिकॉर्ड (Limca book of India Records) में दर्ज कराकर एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है। इस अभियान का नेतृत्व स्वयं निम के प्राचार्य कर्नल अमित बिष्ट ने किया। बता दें कि इस संस्थान को 14 नवंबर 1964 को स्थापित किया गया था। जो कि भारत के प्रमुख पर्वतारोहण संस्थानों में से एक है।

2018 में दिया था अभियान को अंजाम

प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते दो साल पहले उत्तरकाशी जिले के गंगोत्री घाटी में स्थित 6566 मीटर, 6557 मीटर, 6126 मीटर और 6086 मीटर ऊंची चार अनाम व कभी न चढ़ी गई चोटियों पर NIM के प्राचार्य कर्नल अमित बिष्ट के नेतृत्व में पर्वतारोही टीम ने तिरंगा फहराया था। जिसके बाद संस्थान का नाम लिमका बुक ऑफ इंडिया रिकॉर्ड में दर्ज हुआ है। इसका सर्टिफिकेट कुछ दिनों पहले ही संस्थान के अधिकारियों को मिला है। आपको बता दें कि निम और उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद के संयुक्त तत्वाधान में अक्टूबर 2018 को पर्वतारोहण अभियान किया गया था।

Guinness World Records के लिए भी भेजेंगे नाम

NIM के प्राचार्य कर्नल अमित बिष्ट ने बताया कि लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड की टीम ने IMF (Indian Mountaineering Foundation) से इस अभियान की जानकारी जुटाकर इसका परीक्षण किया था। जिसके आधार पर बीते कुछ दिन पहले ही इस रिकॉर्ड को दर्ज कर संस्थान को प्रमाण पत्र सौंपा गया है।

उन्होंने बताया कि संस्थान द्वारा अब इस अभियान को गिनीज़ बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज कराने के लिए भेजा जाएगा। इसके अतिरिक्त 2019 में गंगोत्री क्षेत्र में किये गए मुम्बा पीक अभियान को भी लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज कराने के लिए भेज गया है। जिसका परिणाम जल्द ही आ जायेगा।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)

Latest Updates

वर्ल्ड कप की मेजबानी करने वाला स्टेडियम, खेत की तरह दिख रहा है, 2 फीट लंबी घास से भरा मैदान

खेत जैसा नजर आता है वो मैदान जिस पर कभी वर्ल्ड कप का मैच हुआ था। पटना के मोइनुल हक स्टेडियम(Moin-ul-Haq Stadium),...

Mirzapur Season 2: जानिए आखिर ट्विटर पर क्यों ट्रेंड हो रहा है बॉयकॉट मिर्ज़ापुर 2, गुड्डू भैया से जुड़ा है मामला.. पढ़ें

लंबे इंतजार के बाद अमेज़न प्राइम वीडियो ने सोमवार को मिर्जापुर के दूसरे सीज़न की रिलीज़ डेट की घोषणा की। लेकिन मंगलवार...

भूमि पूजन: अयोध्या को सील करने की तैयारी, 4 अगस्त को नहीं मिलेगा किसी को भी प्रवेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या में श्री राम मंदिर की भूमि पूजन के लिए पहुंचेंगे इस को ध्यान में रखते...

1983 वर्ल्ड कप चैंपियन भारतीय क्रिकेट टीम को कितने पैसे मिलते थे जानिए

दिग्गज पाकिस्तानी क्रिकेटर रमीज राजा ने 1983 वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम की पे-स्लिप शेयर की है। कपिल देव की कप्तानी...

हाईस्कूल में फेल हुई छात्रा ने पिया जहर, वहीं पिथौरागढ़ में छात्रा ने की फांसी लगाकर आत्महत्या

उत्तराखंड के नैनीताल में हाईस्कूल में फेल होने के बाद गवर्नमेंट इंटर कॉलेज बाजुनियाहल्लु की एक छात्रा ने आत्मघाती कदम उठाया। दरअसल,...