डीएम मंगेश घिल्डियाल के तबादले को रोकने के लिए सामाजिक संगठन और जनप्रतिनिधियों ने कलेक्ट्रेट में दिया धरना

Mangesh Ghildiyal : Locals Protest Transfer Of Rudraprayag DM Mangesh Ghildiyal

Mangesh Ghildiyal : जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल के स्थानांतरण की मांग को लेकर सामाजिक संगठनों और जनप्रतिनिधियों ने कलेक्ट्रेट पर धरना दिया। मुख्यमंत्री, सामाजिक संगठनों और जनप्रतिनिधियों ने ज्ञापन भेजकर कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के बीच डीएम का स्थानांतरण उचित नहीं है।

लोगों का कहना है कि नए जिलाधिकारी को यहां की स्थितियों को समझने में समय लगेगा। ऐसे मामले में, एक मामूली चूक भी भारी हो सकती है। केदार-बद्री श्रम समिति के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह नेगी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल डीएम मंगेश घिल्डियाल के स्थानांतरण को रोकने की मांग को लेकर कलक्ट्रेट पहुंचे और धरना दिया। स्थानीय लोगों का कहना है कि कोरोना से निपटने के लिए जिलाधिकारी द्वारा बेहतर प्रयास किए जा रहे हैं, जिसके कारण रुद्रप्रयाग जिला, उत्तराखंड का अकेला ऐसा जिला है जो अभी तक ग्रीन जोन में है। इन विषम परिस्थितियों में सरकार द्वारा डीएम का स्थानांतरण समझ से परे है।

 इस बीच, ऊखीमठ में ग्राम प्रधान संगठन और प्रधान संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष सुभाष रावत ने राज्य सरकार से डीएम के स्थानांतरण को रोकने की मांग की। इस अवसर पर तहसील प्रशासन के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भी भेजा गया।

ज्ञापन में ग्राम प्रधान संदीप पुष्पवान, योगेंद्र नेगी, नवीन रावत, पिंकी देवी और अन्य जनप्रतिनिधियों के हस्ताक्षर हैं। उधर, जन अधिकार मंच ने भी मांग की है कि सीएम से डीएम घिल्डियाल का तबादला छह महीने के लिए रोक दिया जाए।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)