Leopard Attack: एक ही रात में 90 बकरियों को मार डाला तेंदुए ने, 45 के शव बरामद, लोग दहशत में

Leopard Attack: 50-year-old woman, dead body found in bushes three days later
Representative Image

एक रात, एक तेंदुआ(Leopard) और 90 बकरियों का शिकार। कुछ ऐसा ही हुआ मंगलवार शाम रामनगर वन प्रभाग के कालाढूंगी रेंज के सुदूर ग्राम सभा जलाल गांव में, जहां एक ग्रामीण की गौशाला में बंधी 90 बकरियों को एक तेंदुए ने मार डाला। वन विभाग के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर गौशाला से 45 बकरियों के शव बरामद किए। जबकि 18 बकरियां घायल पड़ी मिलीं, 25 बकरियां गायब थीं।

गोशाला घर से सिर्फ 50 मीटर की दूरी पर है: Leopard Attack

जानकारी के अनुसार, मंगलवार शाम को लक्ष्मण सिंह ने अपनी 90 बकरियों को जंगल से लाने के बाद गौशाला में बांध दिया और अपने घर चले गए। ग्रामीणों के अनुसार, उनकी गोशाला घर से सिर्फ 50 मीटर की दूरी पर है। जब वह सुबह उठा तो उसने गौशाला में जाकर देखा तो सभी बकरियों के शव वहीं पड़े थे। फिर उसने अन्य ग्रामीणों को घटना की जानकारी दी।

अधिकारियों ने स्थिति का जायजा लिया

सूचना मिलने पर वन विभाग के अधिकारियों ने घटनास्थल का दौरा किया और स्थिति का जायजा लिया। वन अधिकारी अमित गवासाकोटी के अनुसार, गुलदार ने बकरियों को अपना निवाला बनाया होगा। उन्होंने बताया कि वन विभाग घटना की जांच कर रहा है उसके बाद ही पीड़ित को उचित मुआवजा दिया जाएगा।

पूर्व जिला पंचायत सदस्य गणेश सिंह मेहरा के अनुसार, गाँव के अधिकांश ग्रामीण मवेशियों और बकरियों को पालकर अपनी आजीविका चलाते हैं, लेकिन तेंदुए ने कई दिनों से ग्रामीणों को लगातार नुकसान पहुंचाया है। उन्होंने गश्त बढ़ाने की मांग की है।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)