” मसूरी छावनी परिषद में मास्क पहनना जरूरी नहीं है”, जब लोगों ने ये बोर्ड पर लिखा संदेश पढ़ा तो हैरान रह गए

It is not necessary to wear masks in the Mussoorie Cantonment Council

Mussoorie : कोरोनोवायरस (Covid19) संक्रमण को कम करने के लिए भारत सरकार लगातार काम कर रही है। साथ ही, देश भर में लॉकडाउन के साथ सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए जनता से लगातार अपील की जा रही है, जबकि सभी लोगों को मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है।

लेकिन मसूरी छावनी परिषद के अधिकारियों को भारत सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों से कोई लेना देना नहीं है। इसके साथ ही कैंटोनमेंट काउंसिल क्षेत्र में बड़ा सा होर्डिंग्स लगाकर लोगों को कोरोनोवायरस संक्रमण के बारे में जागरूक किया जा रहा है, लेकिन हर किसी को मास्क नहीं पहनने के लिए कहा जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एक खंबे पर लगे इस बोर्ड पर यह स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि ‘कोरोनावायरस संक्रमण से भयभीत न हों , हर किसी को मास्क पहनने की आवश्यकता नहीं है।’ इसी समय, सरकार चिंतित है कि कोरोनोवायरस के संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार लगातार काम कर रही है। जहां इस वक्त कोरोनावायरस को रोकने के लिए देशभर में युद्धस्तर पर काम चल रहा है, वहीं मसूरी में बोर्ड पर इस प्रकार का संदेश पढ़ कर, स्थानीय लोग आश्चर्यचकित हैं।

इसके साथ ही, कैंटोनमेंट काउंसिल के सीईओ अभिषेक राठौर ने कहा कि कोरोनोवायरस संक्रमण के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए बोर्ड बनवाये गए थे , जिसके माध्यम से लोगों को कोरोनोवायरस से बचाव के विभिन्न तरीके बताए गए हैं। मास्क पहनना जरूरी नहीं है, बोर्ड में लिखी यह बात उनके संज्ञान में नहीं है। यदि ऐसा है, तो इन बोर्डों को तुरंत हटा दिया जाएगा और लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा सकती है।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)