दिल्ली में 45 दिनों में 12 वीं बार भूकंप के झटके महसूस किए गए, क्या यह किसी बड़े खतरे का संकेत? जानिए

Earthquake tremors felt for12th time in 45 days in Delhi

Earthquake : दिल्ली सहित राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में पिछले डेढ़ महीने में 12 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। इसी क्रम में दिल्ली-एनसीआर में सोमवार दोपहर बाद भी कम तीव्रता के झटके आए। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NCS) द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, भूकंप ने रिक्टर पैमाने पर 2.1 की तीव्रता दर्ज की है। हालांकि, इसमें जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है।

एनसीएस के अनुसार, इसका केंद्र दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर स्थित था। गौरतलब है कि इससे पहले 4 जून को भी दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे। उस समय, भूकंप का केंद्र दक्षिण पूर्व नोएडा था। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार, रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 3.2 दर्ज की गई थी। आपको बता दें कि लगातार आने वाले भूकंपों के पीछे विशेषज्ञों का कहना है कि यह आने वाले समय में NCR के लिए बड़े खतरे का संकेत है। लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। बताया जा रहा है कि दिल्ली-एनसीआर में, पृथ्वी के अंदर की प्लेटों के सक्रिय होने के कारण, ऊर्जा बाहर आ रही है, जिसके कारण झटके लगातार आ रहे हैं।

आपको बता दें कि धरती के अंदर 7 प्लेटें हैं जो लगातार घूमती रहती हैं। जिन जगहों पर ये प्लेट्स ज्यादा टकराती हैं, उन्हें फॉल्ट लाइन जोन कहा जाता है। जब दबाव अधिक बनने लगता है तो प्लेटें टूटने लगती हैं। उनके टूटने के कारण, अंदर की ऊर्जा बाहर आने का रास्ता ढूंढती है।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)