Home Uttarakhand 10 किमी पैदल चलकर देवभूमि की 80 वर्षीय दर्शनी देवी ने पीएम...

10 किमी पैदल चलकर देवभूमि की 80 वर्षीय दर्शनी देवी ने पीएम केयर फंड में दान दी अपनी पूरी पेंशन

भारत में ‘COVOID-19’ की वजह से करोड़ों लोगों की स्वास्थ्य और आर्थिक सुरक्षा के लिए गंभीर चुनौतियां उत्‍पन्‍न हो गई हैं। जिससे अर्थव्यवस्था को भी बहुत बड़ा झटका लगा है। ऐसे में देश की जनता इस वायरस के खिलाफ एकजुट होकर लड़ने में देश का हौसला बढ़ाने का काम कर रही है। इसी कड़ी में देवभूमि उत्तराखंड की मातृशक्ति 80 वर्षीय दर्शनी देवी ने प्रधानमंत्री राहत कोष(PM-Cares Fund) में कोरोना वायरस के खिलाफ सरकार की लड़ाई में मदद एवं योगदान के लिए अपनी पेंशन से 2 लाख की धनराशि दान की है।

उत्तराखण्ड के रुद्रप्रयाग जिले में स्थित अगस्त्मुनी के डोभा-डडोली गांव की मातृशक्ति श्रीमती दर्शनी देवी ने शुक्रवार को अपने गांव से 10 किलोमीटर की पैदल यात्रा करके 2 लाख रुपये की धन राशि प्रधानमंत्री केयर फंड में कोरोना महामारी से लड़ने के लिये देश सेवा में समर्पित की है। उनके इस जज्बे को देख नपं अगस्त्यमुनि के अधिशासी अधिकारी ने उनको माला पहनाकर आभार जताया।

दर्शनी देवी ने कहा कि कई लोग राज्य व केंद्र सरकार को धनराशि दान कर रहे हैं, जिससे व्यवस्थाएं और ठीक की जा सके। इसलिए, मैंने भी अपनी पेंशन से दो लाख रुपये पीएम केयर फंड में जमा करने का निर्णय लिया है।

पति ने Indo-Pak युद्ध में दिया था देश के लिए बलिदान

आपको बता दें कि दर्शनी देवी के पति कबूतर सिंह रौथाण वर्ष 1965 में हुए भारत-पाकिस्तान युद्ध में शहीद हो गए थे। दर्शनी देवी की कोई भी संतान नहीं है। उनकी इस भावना को देखकर, एनपी के ईओ ने उनका माला पहनाकर स्वागत किया।

कोरोना वैश्विक संकट के इस दौर में भारत माँ की इस दानवीर रत्न और इनके समर्पण भाव को Team WeUttarakhand का कोटि-कोटि नमन।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)

Latest Updates