Coronil: कोरोनिल विवाद के पीछे बाबा रामदेव ने बताया ड्रग माफिया का हाथ, कहा- सिर्फ 1 दवा से तूफान आ गया, अभी तो…

Baba Ramdev Blames, Slams Drug Mafia For Coronil Controversy

Coronil: योग गुरु स्वामी रामदेव ने कोरोनिल मामले में पूरे विवाद के पीछे ड्रग माफिया का हाथ होने की बात कही। उन्होंने कहा कि वे कोरोनिल वटी और श्वासारि वटी से डरे हुए हैं। क्योंकि पतंजलि की वजह से उनके अरबों डॉलर के कारोबार की जड़ें हिल गई हैं।

बुधवार को पतंजलि योगपीठ में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने यह बात कही। उन्होंने अब पतंजलि द्वारा बनाई गई कोरोनिल वटी और श्वासारि वटी की दवाओं पर पिछले हफ्ते से चल रहे विवाद को अब समाप्त होने का दावा किया है। उन्होंने कहा कि आयुष मंत्रालय ने स्पष्ट कर दिया है कि उनकी दवा को लेकर कोई विवाद नहीं है।

उन्होंने कहा कि हमारे वैज्ञानिकों द्वारा केवल कोरोना पर किए गए शोध का परिणाम सामने आया है, तो दुनिया भर में एक तूफान सा आया है। अभी, हमारे पांच सौ से अधिक वैज्ञानिक लगातार हृदय रोग, रक्तचाप, अस्थमा, हेपेटाइटिस, डेंगू, चिकनगुनिया और कई अन्य बीमारियों पर शोध कर रहे हैं। जल्द ही पतंजलि नैदानिक ​​परीक्षण के परिणामों के आधार पर इन सभी बीमारियों को खत्म करने के चौंकाने वाले परिणाम दुनिया के सामने देगा।

यह भी पढ़ें- Dhaari Devi Temple : भारत का एक ऐसा मंदिर जहां माता की मूर्ति दिन में तीन बार अपना रूप बदलती है

उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य न तो पहले और न ही कभी अपने व्यवसाय को बढ़ाना था। हमने केवल देश को रोग मुक्त बनाने के लिए अभियान शुरू किया था,यह अभी भी बरकरार है। इसके लिए, भले ही हमारे खिलाफ मामले दर्ज किए जाएं, जेल में डाल दिया जाए या देशद्रोही कह दिया जाए, लेकिन हमारा संकल्प कम नहीं होने वाला है। हम अपने संकल्प पर अडिग हैं और आगे भी रहेंगे।

उन्होंने कहा कि पतंजलि ने कभी भी श्वासारि वटी और अणु तेल को कोरोना की दवाई बताकर उनका विज्ञापन नहीं किया। उन्होंने कहा कि एक साजिश के तहत पतंजलि को बदनाम करने के लिए कई तरह के हथकंडे अपनाए गए।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)