सीमा पार से हुई गोलीबारी में शहीद हुआ देश का एक और जवान, अंतिम विदाई में उमड़ा जनसैलाब

indian army soldier martyred at LOC, people throng to see his body
indian army soldier martyred at LOC, people throng to see his body

Indian Army: जम्मू कश्मीर LOC में तैनात राष्ट्रीय राइफल के नायक निशांत शर्मा सीमा पार से हुई गोलीबारी में शहीद हो गए।
सोमवार को शहीद निशांत की अंतिम विदाई में जनसैलाब उमड़ पड़ा। शहादत के बाद से ही परिवार में कोहराम मचा हुआ है। जवान निशांत के शहीद होने पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत तमाम नेताओं ने श्रद्धांजलि दी है। सीएम योगी ने परिजनों को 50 लाख व एक सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है।

सोमवार को शहीद नायक निशांत शर्मा की अंतिम यात्रा में जनसैलाब उमड़ पड़ा। जब तक सूरज चांद रहेगा, निशांत तेरा नाम रहेगा, वंदेमातरम, भारत माता की जय, हिंदुस्तान जिंदाबाद, निशांत शर्मा अमर रहे… जैसे नारों की गूंज के साथ अंतिम विदाई दी गयी।

सहारनपुर के न्यू शारदानगर स्थित आवास से अंतिम यात्रा शुरू हुई और अंबाला रोड स्थित शिवपुरी श्मशान घाट पर संपन्न हुई। यहां दोपहर 12.50 बजे शहीद के भाई ऋषभ ने मुखाग्नि दी। अंतिम यात्रा के दौरान हिंदुस्तान जिंदाबाद के साथ पाकिस्तान मुर्दाबाद के भी नारे गूंजते रहे। उनका एक भाई शुभम शर्मा सेना में नायक के पद पर तैनात हैं।

उनका परिवार सहरानपुर के न्यू शारदानगर गली नंबर-41 में रहता है। 61 राष्ट्रीय राइफल में भर्ती नायक निशांत शर्मा जम्मू कश्मीर में तैनात थे। जिला सैनिक कल्याण बोर्ड के अधिकारी कर्नल मोहर सिंह ने बताया कि सीमा पार से हुई फायरिंग में नायक निशांत शर्मा 24 जनवरी को शहीद हो गए।

आतंकियों द्वारा पेट्रोलिंग के दौरान ग्रेनाइट हमले में निशांत शर्मा घायल हो गए थे। उसके बाद उधमपुर स्थित अस्पताल में उनका उपचार चल रहा था। उपचार के दौरान वह जिंदगी की जंग हार गए।

यह भी पढ़ें:स्क्वाड्रन लीडर विवेक गैरोला को दिया जाएगा वायु सेना मेडल


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)