Home National ICMR ने ' चीनी रैपिड टेस्टिंग किट' के साथ टेस्ट रोका, राज्यों...

ICMR ने ‘ चीनी रैपिड टेस्टिंग किट’ के साथ टेस्ट रोका, राज्यों को किटों को वापस करने के लिए कहा…

ICMR ने ‘ चीनी रैपिड टेस्टिंग किट’ के साथ टेस्ट रोक दिया और राज्यों को इन किटों को वापस करने के लिए कहा गया हैचाइनीज रैपिड टेस्टिंग किट को दोषपूर्ण पाए जाने के बाद ICMR ने कोरोना संक्रमण की जांच पर रोक लगा दी है। राज्यों को इन किटों को वापस करने के लिए कहा गया है ताकि उन्हें चीनी कंपनियों को लौटाया जा सके।

इस मामले में राहत की बात यह है कि किट आपूर्तिकर्ता को कोई भुगतान नहीं किया गया है। इसके साथ ही ICMR ने इस आरोप का खंडन किया है कि चीनी कंपनी से 600 रुपये प्रति किट खरीदने का फैसला गलत था। किट की खरीद ने राजनीतिक रंग भी ले लिया है। इसमें विपक्षी पार्टियों के द्वारा भ्रष्टाचार का आरोप लगाया गया है।

ICMR : सभी देश रैपिड टेस्टिंग किट खरीदने..

सरकार की ओर से पूरी जानकारी देते हुए, जहां आरोप से इनकार किया गया है, वहीं किट को वापस करने का भी निर्णय लिया गया है। ICMR ने कहा है कि 600 रुपये प्रति किट का मूल्य नीलामी प्रक्रिया के बाद निकला है।

चीनी कंपनी वोंदाफो बायोटेक से रैपिड टेस्टिंग किट खरीदने की प्रक्रिया का खुलासा करते हुए, ICMR ने कहा कि इसे कोरोना संकट के संदर्भ में देखा जाना चाहिए, जब सभी देश रैपिड टेस्टिंग किट खरीदने की कोशिश कर रहे हैं। उनके अनुसार, रैपिड टेस्टिंग किट खरीदने के पहले प्रयास में, किसी भी आपूर्तिकर्ता ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। दूसरी बार टेंडर जारी करने के बाद, इसे वोंडाफो और बायोमेडिक्स नामक दो कंपनियों द्वारा आपूर्ति किए जाने का दावा किया गया। इन कंपनियों ने रैपिड टेस्टिंग किट के लिए अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों द्वारा जारी किए गए आवश्यक प्रमाण पत्र भी दिखाए। इसके बाद, इन परीक्षण किटों को खरीदने का फैसला किया गया था ।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)

Latest Updates