Home National गंगा नदी में देखा गया डॉल्फिन का जोड़ा, प्रकृति आने लगी अपने...

गंगा नदी में देखा गया डॉल्फिन का जोड़ा, प्रकृति आने लगी अपने असल रूप में…

Ganges River : कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देश भर मे लॉकडाउन जारी है। इस दौरान लोग अपने घरों में कैद हैं और सड़कों में जंगली जानवरों की आवजाही देखी जा रही है। पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया पर जानवरों के सैकड़ों वायरल वीडियो देखे जा सकते हैं।

ऐसा ही एक शानदार वीडियो सामने आया है जिसमे डॉल्फिन के जोड़े को गंगा नदी में देखा जा सकता है।इस वाइरल क्लिप में एक मीठे पानी की डॉल्फिन नस्ल ‘गंगा नदी डॉल्फिन’ देखी गयी है। यह डॉल्फिन की एक लुप्तप्राय नस्ल है, जिसे मेरठ में गंगा में देखा गया। इस क्लिप को भारतीय वन सेवा (IFS) के अधिकारी आकाश दीप बधावन ने ट्विटर के माध्यम से साझा किया। वीडियो में डॉल्फ़िन के एक जोड़े को गंगा में तैरते और आनंद लेते हुए देखा गया। हालांकि, बधावन ने यह नहीं बताया कि उनके द्वारा वीडियो कब शूट किया गया है।

Ganges River : हमारे राष्ट्रीय जलीय जानवर, जो कभी गंगा-ब्रह्मपुत्र-मेघना नदी में रहते थे…

IFS अधिकारी आकाश दीप बधावन ने वीडियो के कैप्शन में लिखा, “गंगा नदी डॉल्फिन, हमारे राष्ट्रीय जलीय जानवर, जो कभी गंगा-ब्रह्मपुत्र-मेघना नदी में रहते थे, अब लुप्तप्राय है। ये ताजे पानी में रहती हैं, आंखों के रूप में छोटे स्लिट्स रहते हैं और नेत्रहीन हैं। मेरठ में गंगा में इनको देखने का सौभाग्य मिला।”

बधावन ने आगे लिखा, “आधिकारिक रूप से 1801 में खोजा गया ये जीव लगभग अंधे ही होते हैं, और देखने के लिए इनके पास छोटे छिद्र होते हैं। वे आसपास के क्षेत्र में अन्य मछलियों के शिकार करने के लिए अल्ट्रासोनिक ध्वनियों का उपयोग करती हैं। आमतौर पर अकेले पाए जाने वाले ये जंतु, कभी-कभी छोटे समूहों में भी पाए जाते हैं, विशेष कर कि माँ और बच्चे।”

मीठे पानी की ‘गंगा नदी डॉल्फ़िन’ मछली लंबे नोकदार मुंह वाली होती है। इसके ऊपरी तथा निचले जबड़ों में दांत दिखाई देते हैं। इनकी आंखें में लेंस नहीं होते हैं। इसलिए ये केवल प्रकाश की दिशा के मुताबिक कार्य करती हैं। डॉल्फ़िन मछलियां सबस्‍ट्रेट की दिशा में एक पंख के साथ तैरती हैं और झींगे तथा छोटी मछलियों को निगलने के लिए गहराई में जाती हैं।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)

Latest Updates

वर्ल्ड कप की मेजबानी करने वाला स्टेडियम, खेत की तरह दिख रहा है, 2 फीट लंबी घास से भरा मैदान

खेत जैसा नजर आता है वो मैदान जिस पर कभी वर्ल्ड कप का मैच हुआ था। पटना के मोइनुल हक स्टेडियम(Moin-ul-Haq Stadium),...

Mirzapur Season 2: जानिए आखिर ट्विटर पर क्यों ट्रेंड हो रहा है बॉयकॉट मिर्ज़ापुर 2, गुड्डू भैया से जुड़ा है मामला.. पढ़ें

लंबे इंतजार के बाद अमेज़न प्राइम वीडियो ने सोमवार को मिर्जापुर के दूसरे सीज़न की रिलीज़ डेट की घोषणा की। लेकिन मंगलवार...

भूमि पूजन: अयोध्या को सील करने की तैयारी, 4 अगस्त को नहीं मिलेगा किसी को भी प्रवेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या में श्री राम मंदिर की भूमि पूजन के लिए पहुंचेंगे इस को ध्यान में रखते...

1983 वर्ल्ड कप चैंपियन भारतीय क्रिकेट टीम को कितने पैसे मिलते थे जानिए

दिग्गज पाकिस्तानी क्रिकेटर रमीज राजा ने 1983 वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम की पे-स्लिप शेयर की है। कपिल देव की कप्तानी...

हाईस्कूल में फेल हुई छात्रा ने पिया जहर, वहीं पिथौरागढ़ में छात्रा ने की फांसी लगाकर आत्महत्या

उत्तराखंड के नैनीताल में हाईस्कूल में फेल होने के बाद गवर्नमेंट इंटर कॉलेज बाजुनियाहल्लु की एक छात्रा ने आत्मघाती कदम उठाया। दरअसल,...