पश्चिम बंगाल में आए बीते सौ साल के सबसे शक्तिशाली तूफान ने भारी तबाही मचाई, 40 टन का विमान तक डोल गया

The most powerful storm of the last hundred years in West Bengal caused massive destruction

Amphan : पश्चिम बंगाल में पिछले सौ वर्षों के सबसे शक्तिशाली तूफान ‘ अम्फान ‘ ने तबाही मचा कर रख दी। कुछ ही घंटों में, कोलकाता की पूरी तस्वीर बदल गई। गुरुवार की सुबह कोलकाता का दृश्य ऐसा था जैसे किसी ने सिटी ऑफ जॉय को कुचल दिया हो।

विशेषज्ञों के अनुसार, सुंदरवन के मैंग्रोव जंगल अब तक आए तूफानों में कोलकाता को बचा लेते थे, लेकिन बुधवार शाम को आए तूफान ‘ अम्फान ‘ के सामने सुंबरबन भी कोलकात्ता को नहीं बचा सके। 120 से 135 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाली हवाओं ने हजारों पेड़ों को उखाड़ फेंका। ऐसी कोई सड़क नहीं थी जहाँ पेड़ों के गिरने के कारण आवाजाही न रुकी हुई हो।

  बिजली और केबल के खंभे के अलावा, टेलीफोन और इंटरनेट लाइनें नष्ट हो गईं। 12 सौ से अधिक मोबाइल टावर नष्ट होने के बाद बुधवार रात से मोबाइल नेटवर्क लगभग ठप हो गया है। खंभे उखड़ने के कारण कोलकाता का अधिकांश हिस्सा रात भर अंधेरे में डूबा रहा। कई हिस्सों में बिजली आपूर्ति बहाल नहीं हो सकी। बुधवार रात आठ से दस बजे के बीच दो घंटे में 220 मिमी बारिश दर्ज की गई। 40 टन वजन वाले विमान भी इस तूफान की जद में आकर डोल गए।

तूफान के दौरान, कोलकाता हवाई अड्डे पर खड़ा 40 टन का विमान तूफान के प्रभाव से हिल गया जैसे कि वह एक खिलौना हो। एयरपोर्ट का नजारा ऐसा था जैसे बाढ़ आई हो। तूफान के कारण एक निजी विमान क्षतिग्रस्त हो गया है। हालांकि, हवाई अड्डे का संचालन दोपहर 2 बजे शुरू हो गया ।

Amphan : बंगाल में एक लाख करोड़ का नुकसान का दावा

  पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा, शुरुआती चरण में लगभग एक लाख करोड़ रुपये की संपत्ति का नुकसान हुआ है। नुकसान का सही आंकड़ा पाने में तीन से चार दिन लगेंगे। वहीं, रेलवे को सबसे ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा है।

  कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने कहा, गृह मंत्रालय की टीमें नुकसान का आकलन करने और अपनी रिपोर्ट देने के लिए जाएंगी। उन्होंने अधिकारियों को ओडिशा और पश्चिम बंगाल सरकारों के साथ संपर्क बनाए रखने का निर्देश दिया है।

  अम्फान भयानक होगा इसका अंदाजा था, लेकिन इतनी तबाही होगी इसकी कल्पना नहीं थी। पूरा महानगर कचरे के ढेर में तब्दील हो गया है। – फिरहाद हकीम, शहरी विकास मंत्री


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)