Home International कोरोना वायरस से लड़ते हुए युवा डॉक्टर ने गंवाई जान, मौत से...

कोरोना वायरस से लड़ते हुए युवा डॉक्टर ने गंवाई जान, मौत से पहले जारी वीडियो में बताया..

कोरोना वायरस का खतरा पूरी दुनिया पर तेजी से बढ़ता ही जा रहा है। यह वायरस जिस तरह से सभी देशों में अपने पैर पसार रहा है उससे मानव जाति को बहुत बड़ा खतरा पैदा हुआ है। जिस तरह से भारत कोरोना से लड़ाई लड़ रहा है उसी तरह से हमारा पड़ोसी देश पाकिस्तान के भी डॉक्टर भी युद्ध स्तर पर लगे हुए हैं।

इसी बीच पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के गिलगित क्षेत्र में 26 वर्षीय एक डॉक्टर की कोविड-19 की चपेट में आने से मौत हो गयी है। वह रोगियों का उपचार करते समय कोरोना वायरस के संपर्क में आ गये, और उनको अपनी जान गंवानी पड़ी। अब यह खबर सोशल मीडिया चर्चा का विषय बानी हुई है।

पाकिस्तान में इस वायरस से किसी डॉक्टर की मौत का यह पहला मामला है। इस खबर की आधिकारिक पुष्टि सोमवार को की गई। गिलगित-बाल्टिस्तान के चिलास निवासी उसामा रियाज नाम का यह डॉक्टर ईरान और इराक से लौटे रोगियों का उपचार में लगा हुआ था। उनके परिवार के लोगों ने बताया कि रियाज 21 मार्च को उन्हें पहले सैन्य अस्पताल ले जाया गया और फिर जिला अस्पताल। उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया और 22 मार्च को उनकी मृत्यु हो गई।

जैसे ही डॉक्टर की मौत की खबर सोशल मीडिया पर पहुंची तो लोग उनकी सरहना करने लगे। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा जिसे उसामा रियाज का बताया जा रहा है। इस वीडियो उसामा कहते हुए दिख रहे हैं, “अस्सलाम वालेकुम, आज तबियत बेहतर है इसलिए मैंने कहा कि आप लोगों से सलाम कर लूं, आप लोगों से दरख्वास्त करता हूं कि आप लोग इस वायरस को मजाक न समझें, ये मजाक नहीं है।”

वीडियो में आगे कहा, “आज मेरी तबियत हजार दर्जे बेहतर है। खाने-पीने के पीछे न भागे। न ही मजाक बनाए, इसको सीरियस लें, अपने घर वालों के लिए, अपनी फैमिली के लिए, अपने कौम के लिए। अगर आपमें इसके लक्षण मिलते हैं तो आप करीबी डॉक्टर से संपर्क करें। इसे मजाक न समझे। लोग समझ रहे हैं शायद ये मजाक है लेकिन ये मजाक नहीं है। आप लोगों की दुआ से मैं आज पहले से बेहतर हूं। हमारी कौम तो उसके पास इतनी वसायत भी नहीं है, मैं खुसकिस्मत जो यहां पर था और मेरा इलाज भी हो रहा है।”

https://twitter.com/Polytikle/status/1242165847436689414?s=19

कोरोना वायरस की वजह से पाकिस्तान की सीमाएं से बुरी तरह प्रभावित हैं, जो ईरान और चीन से लगती हैं। पाक में अभी तक कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते छह लोगों की मौत हो चुकी है जबकि लगभग 800 लोगों के इसकी चपेट में हैं। रियाज डॉक्टरों की 10 सदस्यीय उस टीम का हिस्सा थे जो खासकर ताफ्तान के जरिए ईरान से आ रहे लोगों की स्क्रीनिंग से जुड़ी है। बाद में, रियाज ने गिलगित में स्थापित एकांत केंद्रों में संदिग्ध रोगियों को चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराने से जुड़ गए थे।

Watch Also:


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)

Latest Updates

वर्ल्ड कप की मेजबानी करने वाला स्टेडियम, खेत की तरह दिख रहा है, 2 फीट लंबी घास से भरा मैदान

खेत जैसा नजर आता है वो मैदान जिस पर कभी वर्ल्ड कप का मैच हुआ था। पटना के मोइनुल हक स्टेडियम(Moin-ul-Haq Stadium),...

Mirzapur Season 2: जानिए आखिर ट्विटर पर क्यों ट्रेंड हो रहा है बॉयकॉट मिर्ज़ापुर 2, गुड्डू भैया से जुड़ा है मामला.. पढ़ें

लंबे इंतजार के बाद अमेज़न प्राइम वीडियो ने सोमवार को मिर्जापुर के दूसरे सीज़न की रिलीज़ डेट की घोषणा की। लेकिन मंगलवार...

भूमि पूजन: अयोध्या को सील करने की तैयारी, 4 अगस्त को नहीं मिलेगा किसी को भी प्रवेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या में श्री राम मंदिर की भूमि पूजन के लिए पहुंचेंगे इस को ध्यान में रखते...

1983 वर्ल्ड कप चैंपियन भारतीय क्रिकेट टीम को कितने पैसे मिलते थे जानिए

दिग्गज पाकिस्तानी क्रिकेटर रमीज राजा ने 1983 वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम की पे-स्लिप शेयर की है। कपिल देव की कप्तानी...

हाईस्कूल में फेल हुई छात्रा ने पिया जहर, वहीं पिथौरागढ़ में छात्रा ने की फांसी लगाकर आत्महत्या

उत्तराखंड के नैनीताल में हाईस्कूल में फेल होने के बाद गवर्नमेंट इंटर कॉलेज बाजुनियाहल्लु की एक छात्रा ने आत्मघाती कदम उठाया। दरअसल,...