भाजपा के ताइवान प्रेम से बौखलाया ड्रैगन, चीन के विदेश मंत्रालय ने कही भारत को यह बात

In a strong message to China, BJP MPs attend Taiwan President's swearing-in ceremony

Indochina चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (CCP) ने ताइवान की लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार का समर्थन करने वाली सत्तारूढ़ भाजपा को फटकार लगाते हुए भारत को इस तरह के कृत्यों से दूर रहने को कहा है। भाजपा के दो सांसदों, मीनाक्षी लेखी और राहुल कस्वां ने ताइवान के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने शपथ ग्रहण समारोह में भाग लिया और बधाई दी। त्साई को अपने दूसरे कार्यकाल के लिए शपथ दिलाई गई।

  वर्चुअल रूप से शामिल हुए थे शपथ ग्रहण में

  इस आयोजन में लेखी, कासवान और अमेरिकी विदेशी माइक पोंपियो सहित 41 देशों के 92 प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया था। लेकिन ये लोग लॉकडाउन के कारण अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध के कारण आभासी रूप (वीडियो कॉन्फ्रेंस) में कार्यक्रम में शामिल हुए। चूंकि भारत सरकार सीधे आयोजन में भाग नहीं ले सकती थी, ये दोनों सांसद सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा के प्रतिनिधि के रूप में शामिल हुए।

  ताइवान की राष्ट्रपति को बधाई देने पर कड़ी आपत्ति जताई

  कार्यक्रम में इन दोनों सांसदों की भागीदारी से बौखलाए, चीन ने तुरंत विरोध किया। चीन के विदेश मंत्रालय ने किसी का नाम लिए बगैर आशा व्यक्त की कि हर कोई ताइवान की स्वतंत्रता के लिए अलगाववादी गतिविधियों का विरोध करे और चीन के लोगों का समर्थन करे।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)