Home International Bhavya Lal: भारतवंशी 'लाल' को मिला NASA में महत्वपूर्ण पद, अमेरिकी स्पेस...

Bhavya Lal: भारतवंशी ‘लाल’ को मिला NASA में महत्वपूर्ण पद, अमेरिकी स्पेस एजेंसी के लिए करेंगी ये कार्य

Bhavya Lal: अमेरिका में प्रतिष्ठित पदों पर भारतीय मूल के लोगों की तैनाती का सिलसिला जारी है। हाल ही में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) की टीम में उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के साथ 20 भारतीय मूल के विशेषज्ञों को जगह मिली है। इसके बाद सोमवार को NASA से ही ऐसी ही एक खबर आई, जहाँ एक भारतवंशी को अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी की कार्यकारी प्रमुख नियुक्त किया गया।

भारतीय मूल की भव्या लाल (Indian Origin Bhavya Lal) को एक फरवरी सोमवार को NASA द्वारा अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी की कार्यकारी प्रमुख नियुक्त किया गया है। भव्या लाल अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन द्वारा NASA में बदलाव संबंधी समीक्षा दल की सदस्य हैं और बाइडन प्रशासन के अंतर्गत एजेंसी में परिवर्तन संबंधी कार्यों को देख रही हैं।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी NASA की वेबसाइट के मुताबिक भव्या लाल के पास Engineering & Space Technology का व्यापक अनुभव है। लाल Space Technology एवं नीति समुदाय की सक्रिय सदस्य भी हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में आपातकालीन चिकित्सा सेवा हुई मजबूत, बेड़े में शामिल हुई 132 नई 108 एम्बुलेंस

भव्या लाल की शिक्षा-दिक्षा

भव्या लाल ने मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से टेक्नोलॉजी एंड पॉलिसी में मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री ली है। इसके अलावा परमाणु विज्ञान में बैचलर ऑफ साइंस और मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री प्राप्त की है साथ ही वहीं जॉर्ज वाशिंगटन यूनिवर्सिटी से सार्वजनिक नीति और सार्वजनिक प्रशासन में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की है।

भव्या लाल की उपलब्धि

STPI में शामिल होने से पहले, लाल ने सी-एसटीपीएस एलएलसी के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया, जो कि वाल्थम, मैसाचुसेट्स में एक विज्ञान और प्रौद्योगिकी नीति अनुसंधान और परामर्श फर्म है। इससे पहले, वह कैम्ब्रिज, मैसाचुसेट्स में एबट एसोसिएट्स इंक में सेंटर फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी पॉलिसी स्टडीज के निदेशक के रूप में कार्यरत थीं। भव्या पहले से ही नासा से कई प्रोग्रामों के जरिए जुड़ी हुई हैं।

वह पहले ही NASA के प्रसिद्ध प्रोग्राम इनोवेटिव एडवांस्ड कॉन्सेप्ट्स प्रोग्राम और नासा एडवाइजरी काउंसिल की टेक्नोलॉजी, इनोवेशन एंड इंजीनियरिंग एडवाइजरी कमेटी की एक्सटर्नल काउंसिल मेंबर भी रह चुकी हैं। उन्होंने पांच नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज, इंजीनियरिंग, और मेडिसिन (NASEM) समितियों में भी काम किया है, जिनमें से सबसे हाल ही में, स्पेस न्यूक्लियर प्रोपल्शन टेक्नोलॉजीज पर एक है जो 2021 में रिलीज होगा।

यह भी पढ़ें: भारत के इस मंदिर के सामने मौसम विभाग भी है फेल, वैज्ञानिक भी नहीं जान पाए इसके पीछे का रहस्य


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)

Latest Updates