Home International कोरोनावायरस को 48 घंटे में खत्म कर देगी यह एंटी-पैरासिटिक ड्रग, वैज्ञानिकों...

कोरोनावायरस को 48 घंटे में खत्म कर देगी यह एंटी-पैरासिटिक ड्रग, वैज्ञानिकों ने कहा मात्र एक खुराक काफी

कोरोनोवायरस के इलाज के लिए विश्व भर के वैज्ञानिक तेजी से काम कर रहे हैं। इस बीच ऑस्ट्रेलियाई वैज्ञानिकों को सफलता हाथ लगी है। वैज्ञानिकों का दावा है कि एक आम एंटी-पैरासिटिक दवा की एक खुराक से SARS-CoV-2 वायरस को 48 घंटों में खत्म किया जा सकता है। एफडीए द्वारा एप्रूव आइवरमेक्टिन (Ivermectin) एक एंटी-पैरासाइटिक ड्रग है जो प्रयोगशाला परीक्षण में एचआईवी, डेंगू, इन्फ्लूएंजा और जीका वायरस पर भी प्रभावशाली है।

एंटीवायरल रिसर्च नामक पत्रिका में प्रकाशित, मोनाश विश्वविद्यालय के एक अध्ययन से पता चला है कि आइवरमेक्टिन (Ivermectin) की एक खुराक से कोरोनावायरस को कोशिका कल्चर में बढ़ने से रोक सकता है और दो दिनों के भीतर वायरस RNA को प्रभावी ढंग से नष्ट कर सकता है। अध्ययन के लेखक डॉ काइली वागस्टाफ ने कहा, “हमने पाया कि एक खुराक भी 48 घंटों तक सभी वायरल आरएनए को अनिवार्य रूप से हटा सकती है और 24 घंटे में भी इसमें काफी कमी आई है।”

हालांकि, डॉ वागस्टाफ ने कहा है कि लैब में किये गए परीक्षण को अभी लोगों में किए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने जानकारी दी, “आइवरमेक्टिन (Ivermectin) बहुत ही व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है और एक सुरक्षित दवा के रूप में देखा गया है। हमें अब यह पता लगाने की जरूरत है कि क्या यह ड्रग मनुष्यों में प्रभावी होगी और हम इसका इस्तेमाल कर सकते हैं या नहीं।”

डॉ वागस्टाफ ने 2012 में मोनाश बायोमेडिसिन डिस्कवरी इंस्टीट्यूट के प्रोफेसर डेविड जॉन्स के साथ आइवरमेक्टिन (Ivermectin) दवा और इसकी एंटीवायरल गतिविधि की पहचान की थी। प्रोफेसर जॉन्स और उनकी टीम पिछले 10 वर्षों से अलग-अलग वायरस के साथ Ivermectin पर शोध कर रही है।

डॉ वागस्टाफ और प्रोफेसर जॉन्स ने जांच शुरू कर दी कि क्या आइवरमेक्टिन का प्रभाव कोरोनावायरस पर क्या होता है। इसकी जांच इस महामारी के शुरू होते ही कर दी गयी थी। शोधकर्ताओं का कहना है कि Ivermectin का उपयोग COVID -19 का मुकाबला करने के लिए हो इसे पहले इसे प्रि-क्लीनिकल टेस्ट औरक्लीनिकल ट्रायल से गुजरना होगा जिसके लिए तत्काल धन की आवश्यकता होगी।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)

Latest Updates

वर्ल्ड कप की मेजबानी करने वाला स्टेडियम, खेत की तरह दिख रहा है, 2 फीट लंबी घास से भरा मैदान

खेत जैसा नजर आता है वो मैदान जिस पर कभी वर्ल्ड कप का मैच हुआ था। पटना के मोइनुल हक स्टेडियम(Moin-ul-Haq Stadium),...

Mirzapur Season 2: जानिए आखिर ट्विटर पर क्यों ट्रेंड हो रहा है बॉयकॉट मिर्ज़ापुर 2, गुड्डू भैया से जुड़ा है मामला.. पढ़ें

लंबे इंतजार के बाद अमेज़न प्राइम वीडियो ने सोमवार को मिर्जापुर के दूसरे सीज़न की रिलीज़ डेट की घोषणा की। लेकिन मंगलवार...

भूमि पूजन: अयोध्या को सील करने की तैयारी, 4 अगस्त को नहीं मिलेगा किसी को भी प्रवेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या में श्री राम मंदिर की भूमि पूजन के लिए पहुंचेंगे इस को ध्यान में रखते...

1983 वर्ल्ड कप चैंपियन भारतीय क्रिकेट टीम को कितने पैसे मिलते थे जानिए

दिग्गज पाकिस्तानी क्रिकेटर रमीज राजा ने 1983 वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम की पे-स्लिप शेयर की है। कपिल देव की कप्तानी...

हाईस्कूल में फेल हुई छात्रा ने पिया जहर, वहीं पिथौरागढ़ में छात्रा ने की फांसी लगाकर आत्महत्या

उत्तराखंड के नैनीताल में हाईस्कूल में फेल होने के बाद गवर्नमेंट इंटर कॉलेज बाजुनियाहल्लु की एक छात्रा ने आत्मघाती कदम उठाया। दरअसल,...