हिमाचल प्रदेश में ठप पड़ा पर्यटन, करोड़ों का हुआ नुकसान

Himachal Pradesh Tourism

कोरोना विश्व स्तर की महामारी है जिससे लगभग पूरी दुनिया प्रभावित हो चुकी है। कोरोना वायरस के कारण इस समय पूरे विश्व में लॉकडाउन की स्थिति है। भारत में भी कोरोना का संकट बढ़ रहा है। एक तरफ जहां इससे भारत की अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका लगा है, वहीं दूसरी तरफ इससे देश में पर्यटन को भी भारी नुकसान देखने को मिला है। भारत में अपनी खूबसूरत पर्यटक स्थलों के लिए प्रसिद्ध हिमाचल प्रदेश राज्य में यह शून्य की कगार पर चला गया है।

करोड़ों का हुआ नुकसान

हिमाचल प्रदेश उत्तर भारत का सबसे चहीता पहाड़ी इलाका है जो ढ़ेर सारी खूबसूरत स्थलों के लिए मशहूर है। लेकिन यह भी कोरोना महामारी के कहर से अछूता नहीं रहा है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रदेश में करीब छह हजार होटल, होम स्टे और रेस्टोरेंट एक माह से बंद हैं। जिससे पर्यटन कारोबार को करोड़ों का नुकसान हुआ है।

आपको बता दें कि साल 2019 में मार्च से मई तक करीब 50 लाख देशी और विदेशी सैलानी हिमाचल आए। 2019 में प्रदेश में आने वाले सैलानियों की संख्या 1.72 करोड़ रही।

राज्य में फसल को भी हुआ भारी नुकसान

राज्य में एक तो कोरोना की मार और ऊपर से मौसम भी साथ नहीं दे रहा है। इस सप्ताह मौसम में आए बदलाव के चलते हुई भारी बारिश और ओलावृष्टि ने राज्यों में फसल को बहुत नुकसान पहुंचाया है। जिसमे 12 जिलों में कुल 22,760 हेक्टेयर भूमि में कृषि फसलों को क्षति पहुंची है। जिससे किसानों के सामने भी गहरा आर्थिक संकट खडा हो गया है।


WeUttarakhand की न्यूज़ पाएं अब Telegram पर - यहां CLICK कर Subscribe करें (आप हमारे साथ फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर जुड़ सकते हैं)